बदहाल पाकिस्तान की नहीं गई अकड़, अब 'सशर्त' द्विपक्षीय वार्ता की पहल की

इस्लामाबाद । अंतरराष्ट्रीय बेइज्जती होने के बाद भी पाकिस्तान की अकड़ नहीं जा रही है। अब पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी का कहना है कि पाकिस्तान भारत के साथ सशर्त द्विपक्षीय वार्ता करने के लिए तैयार है। ये बात पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट में कही गई है।
इससे पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को देश को संबोधित करते हुए कहा था कि यदि दो परमाणु शक्ति संपन्न देशों के बीच युद्ध होता है तो इसका नुकसान पूरी दुनिया को भुगतना पड़ेगा। उन्होंने भारत को धमकी देते हुए कहा था कि अगर पीओके पर किसी भी तरह की सैन्य कार्रवाई की जाती है तो उनकी सेना किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार है।
भारत ने पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के खंड दो और तीन को खत्म कर दिया था। साथ ही राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों- जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में विभाजित किया है। तभी से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। हालांकि भारत ने कई बार उससे कहा है कि यह उसका आंतरिक मामला है।   
वहीं पाकिस्तान कश्मीर मामले के अंतरराष्ट्रीयकरण की कोशिश करने के लिए चीन और संयुक्त राष्ट्र भी जा चुका है। लेकिन हर जगह उसे एक ही बात कही गई है कि वह भारत के साथ द्विपक्षीय बातचीत कर मामले को शांत करे।


Popular posts
इसके अलावा सीसीटीवी कैमरों से लगातार मॉनिटरिंग भी की जाएगी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इसके अलावा रविवार से ऑटो और टैक्सी को भी डिसइंफैक्ट किया जा रहा है, ताकि वायरस के संक्रमण को रोका जा सके।
एम्स स्थित कोविड-19 अस्पताल में भर्ती हुए दो संक्रमित एम्स ट्रामा सेंटर, दिल्ली स्थित कोविड-19 अस्पताल में आज सुबह ही दो कोरोना संक्रमित मरीजों को भर्ती कराया गया है।
गैर-सरकारी संगठनों की मदद से, दिल्ली पुलिस 10 दिनों से 6,000 परिवारों को राशन और लगभग 2 लाख लोगों को भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। हम राज्य में आवश्यक वस्तुओं की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित कर रहे हैं।
उन्होंने बताया कि मरकज से बाहर लाए गए लगभग 2300 लोगों में से 500 लोग जिनमें कोरोना के दिखाई दिए उन्हें अस्पतालों में भर्ती कराया गया और 1800 लोगों को क्वारंटीन में रखा गया। हम उन सभी का परीक्षण कर रहे हैं, उनके परिणाम 2-3 दिनों में आएंगे, इससे सकारात्मक संक्रमितों की संख्या में वृद्धि हो सकती है।
नरेला क्वारंटीन सेंटर में मेडिकल टीम बढ़ाएगी सेना सेना सूत्रों के अनुसार दिल्ली सरकार के लिए भारतीय सेना नरेला क्वारंटीन सेंटर में मेडिकल टीम बढ़ाने जा रही है। अब यहां चार डॉक्टर और आठ नर्स अपनी सेवाएं देंगे । इससे पहले नरेला क्वारंटीन सेंटर में दो डॉक्टर और दो नर्स सेवाएं दे रहे थे।